कौन बनेगा भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष- शांतनु, ठाकुरिया या तासा

गुवाहाटी

कौन बनेगा प्रदेश भाजपा का नया अध्यक्ष? अध्यक्ष पद को लेकर जारी अटकलों के बीच ही तीन नाम उभरकर सामने आ रहे है। एक तरफ जहाँ मुख्य मुकाबला पार्टी के प्रभारी अध्यक्ष शांतनु भराली और पार्टी के वरिष्ठ नेता डॉ. प्रदीप ठाकुरिया के बीच है, वहीँ पार्टी सूत्रों ने जोरहाट के सांसद कामाख्या प्रसाद तासा का नाम लिया है।

पार्टी सूत्रों के मुताबिक नए पुराने की जंग में तासा बाजी मार सकते है। दरअसल शांतनु भराली पार्टी के नए समर्पित नेता है तो डॉ. प्रदीप ठाकुरिया लंबे समय से पार्टी की सेवा कर रहे है। युवा मोर्चा से बीजेपी की सेवा कर रहे ठाकुरिया ने पार्टी की सेवा के लिए दो साल पहले प्रोफेसर की नौकरी छोड़ दी थी और सक्रीय रूप से पार्टी की सेवा में जुट गए थे। मीडिया प्रकोष्ठ के संयोजक के रूप में उनके कार्यों की खूब सराहना हुई थी। वही शांतनु भराली ने पहले महासचिव और फिर उपाध्यक्ष के रूप में पार्टी के कामकाज को बेहतर तरीके से आगे बढ़ाया और मौजूदा पार्टी की कमान संभाल रहे है।

एक तरफ जहाँ युवा वर्ग प्रोफेसर ठाकुरिया के पक्ष में है तो वहीँ दूसरी तरफ पार्टी का एक बड़ा तबका युवा नेता तथा सांसद तासा को पार्टी की कमान सौंपे जाने के पक्ष में है। हालांकि अगले तीन-चार दिन में छवि पूरी तरह साफ होने की संभावना है।

इस बीच पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गी ने कल हेंगराबाड़ी स्थित पार्टी मुख्यालय में पार्टी के पदाधिकारियों और मोर्चा के अध्यक्षों से बातचीत की। उन्होंने देर रात को भाजपा विधायकों के साथ बैठक कर पार्टी की सांगठनिक स्थिति की समीक्षा की।

पार्टी सूत्रों के मुताबिक विजयवर्गी यह संज्ञान में लेने आए है कि अध्यक्ष पद के लिए पार्टी के अधिकांश नेता और कार्यकर्ता किसके पक्ष में है। इस पर वे अपनी रिपोर्ट दो दिन बाद केरल के कलीकट में होने जा रही पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में केंद्रीय नेतृत्व को सौंपेंगे जिसके बाद प्रदेश अध्यक्ष के नाम पर मुहर लगेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: