भाजपा ने दिया संकेत- असम के राज्यपाल नहीं बदले जाएंगे

गुवाहाटीभाजपा ने आज असम के कार्यवाहक राज्यपाल पी बी आचार्य के विवादास्पद बयान ‘हिंदुस्तान हिंदुओं के लिए है’ का बचाव किया और संकेत दिया कि उन्हें फिलहाल राज्य से नहीं हटाया जाएगा।

भाजपा महासचिव राम माधव ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि, ‘‘राज्यपाल के बयान की गलत व्याख्या की जा रही है। तरूण गोगोई के नेतृत्व में राज्य सरकार आचार्य के बयान के संबंध में लोगों को गुमराह कर रही है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘तरूण गोगोई सरकार के पास चर्चा करने के लिए कोई मुद्दा ही नहीं है इस लिए वह गैर मुद्दे को लेकर लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रही है। ’’

जब उनसे पूछा गया कि क्या केंद्र आचार्य को हटाने और स्थायी राज्यपाल नियुक्त करने की राज्य सरकार की मांग मानेगी तो उन्होंने कहा, ‘‘लोग हमेशा कई चीजों की मांग करते हैं। वे कहते हैं इसे हटाया जाए, उसे हटाया जाए। क्या उस तरह होता है?’’

गौर तलब है कि आचार्य ने 21 नवंबर को अपने इस बयान ‘हिंदुस्तान हिंदुओं के लिए है’ से विवाद पैदा कर दिया था। अगले दिन अपने बयान पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा कि ‘भारतीय मुसलमान पाकिस्तान जाने के लिए स्वतंत्र हैं’, उनके इस बयान से विवाद और बढ़ गया एवं मुख्यमंत्री तरूण गोगोई तथा अन्य ने उन्हें हटाने की मांग की।

इसे भी पढ़ें-

हिन्दुओं का है हिंदुस्तान- पी बी आचार्य 

गोगोई ने फिर उठाया असम के राज्यपाल को हटाने की मांग- मायावती ने मिलाया सुर में सुर

गोगोई ने सोमवार को यह कहते हुए आचार्य को हटाने की मांग की कि उन्हें संवैधानिक प्रमुख के रूप में अपनी मर्यादा बनाए रखने का ज्ञान नहीं है तथा ऐसे व्यक्तियों की राज्यपाल के रूप में नियुक्ति एवं ऐसे बयानों से देश विखंडित होगा तथा एकता प्रभावित होगी।

इसे भी पढ़ें-  9 दिसंबर को बीजेपी करेगी असम विधान सभा का घेराव 

असम कांग्रेस ने कार्यवाहक राज्यपाल को हटाने की मांग को लेकर शक्रवार को गुवाहाटी में  एक विशाल रैली निकाली थी। सपा नेता आजम खान और बसपा प्रमुख मायावती भी उन्हें तत्काल इस पद से हटाने की मांग कर चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: