भोपाल- इस बार बच्चों ने लिखा पीएम मोदी को अपने ‘मन की बात’

भोपाल

“मन की बात” यूं तो प्रधान मंत्री के कार्यक्रम के नाम से जाना जाता है, लेकिन इस बार बच्चों ने अपने “मन की बात” एक पोस्ट कार्ड में लिख कर पी एम मोदी को भेज दिया.

भोपाल के सुदूर गावं निवासी और कक्षा आठ में पढऩे वाले छात्र गणेश अहीरवार  और अर्चना कुमारी ने पी एम मोदी को अपने ‘मन की बात’ लिख कर भेजा. जिस में स्कूल में थालियों की कमी और स्कूल के बाउंड्री वाल नहीं होने से होने वाली परेशानी के बारे में लिखा है.

गणेश अहीरवार ने पीएम मोदी के नाम अपने ‘मन की बात’ में लिखा है कि, मोदी जी, कृपया हमारे स्कूल में थालियों की व्यवस्था करवा दीजिए, जिससे सभी बच्चे मध्याह्न भोजन कर सकें. गणेश अहीरवार ने आगे लिखा है कि, मेरे स्कूल में मध्याह्न भोजन वितरण के समय खाना खाने की थालियों की संख्या बच्चों की संख्या से बहुत कम है जिस कारण सभी बच्चे एक साथ भोजन नहीं कर पाते हैं.

गणेश की कक्षा में पढऩे वाली अर्चना कुमारी ने एक और पोस्टकार्ड भेजकर प्रधानमंत्री से स्कूल की बाउंड्री बनवाने के लिए मदद मांगी है, जिससे सड़क पर चलने वाले वाहनों से बच्चे घायल न हों.

बता दें कि रायसेन जिले के गैरतगंज में मिडल स्कूल में 165 स्टूडेंट्स हैं.वर्ष 2007 में इस स्कूल में केवल 65 थालियां भेजी गईं थीं. तब से स्कूल में स्टूडेंट्स की संख्या बढ़ गई है, लेकिन थालियां अब भी उतनी ही हैं. हालांकि स्कूल के हेडमास्टर ने कई बार जिला पंचायत से इस बारे में कहा, लेकिन उन्हें कोई सहायता नहीं मिल सकी.

गणेश और अर्चना को यह पत्र लिखने का विचार तब आया जब उनके स्कूल में एमपी चाइल्ड राइट्स ऑब्जर्वेटरी (CRO) की एक वर्कशॉप हुई. मिड-डे मील बच्चों को स्कूल की तरफ आकर्षित करता है, लेकिन थालियों की कमी की वजह से वह खाना भी नहीं खा पाते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *