हार का ठीकरा भागवत के ब्यान पर फोड़ना ग़लत- जेटली

News desk/nesamachar

गुवाहाटी- बिहार में हार पर बीजेपी की रिव्यू मीटिंग के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि हमारी पार्टी बिहार की जनता के फैसले का सम्मान करती है। हम उम्मीद करते हैं कि बिहार में नई सरकार विकास करेगी। हमारे विरोधी एकजुट होकर लड़े, इसलिए हम हार गए. जब उनसे पूछा गया कि क्या रिजर्वेशन पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के बयान के कारण बीजेपी हारी तो जेटली ने कहा कि किसी एक बयान पर नतीजे तय नहीं होते. जेटली सोमवार को बीजेपी की रिव्यू मीटिंग के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोल रहे थे.

लेकिन भाजपा के लिए मुश्किल यह हो गया है कि अब पार्टी के अन्दर से ही आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के ब्यान के विरोध में आवाजें उठ रही हैं. इस कतार में सब से आगे मधुबनी से बीजेपी के सांसद हुकुमदेव नारायण यादव हैं जिन्हों ने भागवत के आरक्षण वाले बयान को हार की जड़ बता रहे है. उन का कहना है की वो बयान पहले दौर के चुनाव से पहले आया था जिसे चुनाव प्रचार के दौरान लालू ने मुद्दा बना दिया और बीजेपी के नेता इसी पर सफाई देते रह गए.

दुसरे नंबर पर भजपा के नए मित्र और सहयोगी जीतन राम मांझी  हैं जिन का कहना है कि चुनावी माहौल में आरक्षण वाला बयान नहीं देना चाहिए था.

अब सवाल ये है कि क्या सिर्फ आरक्षण वाला बयान ही हार का कारण बना ? या फिर टिकट बंटवारे का झगड़ा, लालू-नीतीश पर निजी हमले, डीएनए विवाद, दाल के दाम, भीतरघात, निगेटिव कैम्पेन और नफरत वाले बयान ने बीजेपी का खेल खराब कर दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: