असम में भी प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का शुभारंभ, गैस कनेक्शन वितरित

डिब्रूगढ़

असम में भी प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का शुभारंभ हो गया है| शनिवार को डिब्रूगढ़ के चौकीडिंगी खेल मैदान में गैस कनेक्शन वितरण समारोह का आयोजन किया गया|इस मौके पर केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) धर्मेंद्र प्रधान भी उपस्थित थे|

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का असम में प्रदेश स्तर पर शुभारंभ तथा गैस कनेक्शन वितरण समारोह का दीप प्रज्ज्वलित कर उद्घाटन करने के बाद मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने कहा, “देश के विकास के लिए मोदी की अगुवाई में बनी टीम इंडिया का मैं भी एक सिपाही हूँ और टीम भावना के साथ मिलकर काम करने को प्रतिबद्ध हूँ|”

मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल और अन्य मंत्रियों ने प्रतिक रूप से बीपीएल घरों से चयनित लाभार्थियों को मुफ्त एलपीजी गैस कनेक्शन तथा एक-एक पौधा लगाने के लिए दिया|

प्रधानमंत्री द्वारा विगत 1 मई 2016 को बलिया(उत्तर प्रदेश) में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत देशभर में गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले (बीपीएल) घरों की महिलाओं को स्वच्छ रसोई ईंधन प्रदान का कार्य शुरू किया था| इतिहास में पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय द्वारा पहली बार ऐसी कल्याणकारी योजना कार्यान्वित की जा रही है, जिसका लाभ अत्यंत निर्धन घरों की करोड़ों महिलाओं को मिलेगा|

मुख्यमंत्री ने केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान तथा प्रधानमंत्री के प्रति असम की ओर से आभार प्रकट करते हुए कहा कि असम को तेल एवं गैस की रॉयल्टी के रूप में सात हजार करोड़ रुपये से भी अधिक की राशि मिली है| पूर्वोत्तर राज्यों के विकास के प्रति गंभीर प्रधानमंत्री तथा रेल राज्य मंत्री के कारण रेलवे ट्रैक के दोहरीकरण का काम कई सेक्टरों में हो रहा है| केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भी ब्रह्मपुत्र नद [पर पांच नए पुल के निर्माण की बात सिद्धांततः मान ली है| इसके अलावा राज्य में 6,300 करोड़ रुपयों का न सिर्फ निवेश हुआ है बल्कि काम भी शुरू हो गया है|

वहीँ केंद्रीय मंत्री प्रधान ने अपने संबोधन में मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल की सराहना करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत महिला लाभार्थियों को 1,600 रुपये के साथ असम सरकार ने भी 1,000 रुपये प्रति पीएमयूवाई कनेक्शन देने का फैसला किया है| उन्होंने कहा कि अगले 2 साल तक असम के 90 प्रतिशत बीपीएल घरों में गैस कनेक्शन एवं एलपीजी पहुँच जाएगी|

इसके अलावा कामख्या के विकास के लिए ऑयल इंडिया 25 करोड़ रुपए खर्च करेगा|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: