असम: एनआरसी की दहशत से एक व्यक्ती की मौत

गुवाहाटी

असम में एनआरसी का दहशत अभी भी लोगों के दिल-व-दिमाग पर छाया हुआ है. इस का जीता जागता उदहारण है किताब अली नामक एक व्यक्ति की मौत. किताब अली को जैसे ही फैमली ट्री के सत्यापन का नोटिस मिला उन की साँसें रुक गयीं और वोह परलोक सुधार गए.

दरअसल इन दिनों राज्य भर में एनआरसी की दूसरी सूची के लिए फैमली ट्री के सत्यापन का कार्य चल रहा है. जिस के लिए लोगों को नोटिस दिया जा रहे हैं. ऐसा ही एक नोटिस मिलने के बाद से एक व्यक्ति की सदमे में मौत हो गई है, घटना असम के कामरूप जिले के नगरबेड़ा की है जहां एक वृद्ध किताब अली को उनके परिवार के 15 सदस्यों को फैमली ट्री के सत्यापन के लिए नोटिस दिया गया था.

जानकारी के अनुसार, इस वृद्ध व्यक्ति का नाम 1951, 1966 आदि की मतदाता सूची में भी है. नोटिस मिलने के बाद इस व्यक्ति ने आस- पास के लोगों को अपने दस्तावेज भी दिखाए, लेकिन अचानक बीती रात 12 बजे इस व्यक्ति की मौत हो गई.  हालांकी उस के बावजूद भी  परिवार के अन्य सदस्य एनआरसी केंद्र में सुनवाई के लिए पहुंचे.

इस घटना को लेकर इलाके में शोक का माहौल है, तो वहीं परिवार के लोग सदमें में हैं.  ऐसी बात नहीं है कि  असम में एनआरसी प्रक्रिया को लेकर जागरूकता की कमी है. मुख्य मंत्री सर्वानंद सोनोवाल भी कई बार कह चुके हैं कि एनआरसी से घबराने की ज़रुरत नहीं है. हर भारतीय नागरिक का नाम एनआरसी में शामिल किया जाएगा. लेकिन उस के बावजूद  जिससे स्थानीय लोगों में इसको लेकर खौफ का माहौल है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: