असम की बाढ़ प्राकृतिक आपदा नहीं – राजनाथ सिंह

गुवाहाटी

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने आज बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण कर कहा, “असम में बाढ़ प्राकृतिक आपदा नहीं है| यहाँ बाढ़ से निपटने के लिए उचित योजना की आवश्यकता है|”

असम के 22 जिलों में 19 लाख लोगों के बाढ़ से प्रभावित होने के चलते आज गृह मंत्री राजनाथ सिंह असम दौरे पर पहुंचे थे| मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल और केंद्रीय डोनर मंत्री जीतेन्द्र सिंह के साथ गृह मंत्री ने मोरीगांव जिले के भकतगांव के आश्रय शिविर में जाकर बाढ़ पीड़ितों की सुध ली| गृह मंत्री ने नगांव तथा काजीरंगा के बाढ़ग्रस्त इलाकों का भी हवाई सर्वेक्षण किया|

गुवाहाटी में एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि “राज्य सरकार ने बाढ़ पीड़ितों के लिए मुआवजे की घोषणा की है और राहत तथा बचाव कार्य जारी है| राज्य और केंद्र मिलकर बाढ़ के हालत से निपटने की कोशिश कर रहे है|”

ब्रह्मपुत्र का बढ़ता जलस्तर असम में बाढ़ की परिस्थिति को बद से बदतर बना रहा है| 22 जिले बाढ़ के पानी में डूबे हुए है जबकि 26 लोगों की जान जा चुकी है| ऐसे में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बाढ़ प्रभावित जिलों का दौरा कर लोगों के हालात की सुध ली है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: