असम – करोड़ों का कृषि घोटाला, 3 ठेकेदार गिरफ्तार

गुवाहाटी

कृषि विभाग में हुए करोड़ों के घोटाले की परत दर परत जांच के बीच मंगलवार को विभाग से जुड़े तीन ठेकेदारों को गिरफ्तार किया गया| सीआईडी में दर्ज केस संख्या 56/14 भादवि की धारा 120(बी)/420/406 आरडब्ल्यू की धारा 13(1)(सी) (2) प्रिवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट के तहत गौतम भट्टाचार्य, दिपुल बर्मन सहित कुल तीन ठेकेदारों को गिरफ्तार किया गया है|

जानकारी के नुसार कांग्रेस के शासनकाल के दौरान कृषि विभाग में पॉवर ट्रिलर, ट्रैक्टर व कृषि सामग्री वितरण में करीब 700 करोड़ तुपयों का घोटाला सामने आया था, जिसके बाद एक मामला सीआईडी में दर्ज कराया गया| दर्ज मामले के आधार पर इसी वर्ष फ़रवरी महीने में सीआईडी अधिकारियों ने गोलाघाट से कृषि अधिकारी डॉ. वीरेंद्र नाथ शर्मा, कार्यकारी अभियंता लखेश्वर गुरुंग, दिलीप बरुवा, रणधीर काकती व कनिष्ठ अभियंता रोहित भराली को गिरफ्तार किया था| इनसे की गई पूछताछ के दौरान कई सनसनीखेज खुलासे सामने आए थे|

गिरफ्तार कृषि अधिकारियों ने इस घोटाले में कई ठेकेदारों की संलिप्तता होने की जानकारी दी थी, जिसके बाद इन ठेकेदारों के खिलाफ सीआईडी ने अपनी जांच शुरू कर दी थी| पर्याप्त सबूतों के आधार पर तीन ठेकेदारों को सीआईडी कार्यालय में पूछताछ के लिए बुलाया गया, फिर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया|

इधर गिरफ्त्रा ठेकेदार दिपुल बर्मन ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए कहा है कि गिरफ्तार नहीं करने के एवज में सीआईडी के कुछ अधिकारियों ने लाखों रुपयों की घूस ली थी| सड़क हादसे में मारे गए सदानंद हजारिका ने चार लाख रूपए लिए थे| इसके अलावा कई ठेकेदारों ने कथित रूप से सीआईडी के कुछ भ्रष्ट अधिकारियों को घूस दी थी|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: