गिबन के संगरक्षण के लिए अरुणाचल में हुआ सराहनीय पहल

News desk/nesamachar.in

लंगूर की एक लुप्त होती प्रजाती ईस्टर्न हुलॉक गिबन की संगरक्षण के लिए अरुणाचल प्रदेश में एक सामुदायिक पहल शुरूकी गई है, जिस के तहत स्कूल आधारित शिक्षा को भे जोड़ा गया है.

इस कार्यक्रम की शुरूआत अरुणाचल के निम्न दिबांग घाटे और असम के तिनसुकिया जिले के सदिया अनुमंडल में की गयी है. एक आधिकारिक विज्ञप्ती में बताया गया है कि अरुणाचल प्रदेश के प्रधान मुख्य वन संग्रक्षक डॉ शशी कुमार ने इस कार्यक्रम की शुरूआत की.

इस कार्यक्रम को पूर्वोत्तर आधारित एक गैर सरकारी संगठन एनवीरोन लागू करेगा. इस कार्यक्रम को यूएसफिश एंड वाइल्डलाइफसेर्व सरविसेस भी समर्थन दे रहा है. इसे द हेरिटेज और राज्य का पर्यावरण और वन विभाग मिल कर लागू करेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: