अमित शाह- असम रैली में कर गए दो गलतियाँ

AMIT SHAH (16)डिब्रूगढ़- असम के डिब्रुगढ़ में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कार्यकर्ताओं की रैली को संबोधित करते हुए एक के बाद दो गलतियां कर गए जिस के बाद यह सोचना लाजमी हो जाता है की जो व्यक्ति असम के विकास के नाम पर जनता से राज्य में बीजेपी की सरकार बनाने की बात कर रहा हो उसे राज्य किया अपनी पार्टी के प्रदेश इकाई के बारे में भी सही और पूरी जानकारी नहीं है.

पहली गलती करते हुए अपने भाषण में अमित शाह ने मुख्य मंत्री तरुण गोगोई से पुछा लिए कि दुसरे राज्यों की तरह असम में 108 एम्बुलेंस सेवा है किया? शाह ने अपने भाषण में कहा कि ” बीजेपी शासित राज्यों में बीमार माँ को जब डॉक्टर की ज़रुरत होती है तो 108 बटन दबाते ही दस मिनट में एम्बुलेंस आ जाती है. असम में 108 एम्बुलेंस सेवा है किया “?

आप को बता दें की कुछ महीने पहले कांग्रेस को अलबिदा कर बीजेपी में शामिल होने वाले और एक समय में कांग्रेस के भावी और तरुण गोगोई के चहेते रहे हिमंत बिस्व शर्मा ही वोह शक्श हैं जो असम सरकार के स्वास्थ्य मंत्री रहते हुए 108 एम्बुलेंस सेवा को असम में न केवल शुरू किया बल्कि उसे बुलंदी तक पहुंचाया और आज असम के हर जिले में यह सेवा उपलब्ध है.

शाह को यह जानकारी ही नहीं थी की वर्ष 2014 के लोक सभा चुनाव में प्रदेश भाजपा का अध्यक्ष कौन था. उनहों ने अपने भाषण में सिद्धार्थ भट्टाचार्जी तारीफ करते हुए कह डाला की 2014 लोक सभा चुनाव में सिद्धार्थ भट्टाचार्जी के नेतृत्त्व में पार्टी 7 सीटें जीती. जब की सिद्दार्थ भट्टाचार्जी लोक सभा चुनाव के समय प्रदेश अध्यक्ष नहीं थे.

अमित शाह की यह गलतियां यह बताती हैं कि उन्हें एक तो असम के बारे में कोई जानकारी नहीं है, दूसरा यह के प्रदेश भाजपा के नेता भाषण से पहले उन्हें असम के बारे में जानकारी देना भी शायेद ज़रूरी नहीं समझे, क्योंकी सर्बनंदा सोनोवाल के प्रदेश अध्यक्ष बन्ने के बाद तो पार्टी में कई गुट बंदी की खबर आ रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: